Anandway: Blog

Roadmaps to joy!

Bhojpuri song by Malini Awasthi, Reliya Bairan

रेलिया बैरन पिया को लिये जाय रे, रेलिया बैरन

जौंन टिकस्वा से बलमा मोरे जंइहे, पानी बरसे टिकस गल जाये रे, रेलिया बैरन…

जौंन सहरिया को सैया मोरे जंइहे, आग लग जैहे, सहर जल जाये रे, रेलिया बैरन…

जौन साहेबवा के पिया मोरे नौकर, लग जाये गोली, साहब मर जाये रे, रेलिया बैरन…

जौन सौतनिया पे पिया मोरे रीझे, खाय धतूरा सवत बौराय रे, रेलिया बैरन…

रेलिया बैरन पिया को लिये जाय रे, रेलिया बैरन…

~ संकलन कर्ता - पडित राम त्रिपाठी, उत्तर प्रदेश

Malini Awasthi is a student of Srimati Girija Devi, and specialises in folk music from Uttar Pradesh and Bihar.

रेलिया बैरन पिया को लिये जाय रे, this song is a catharsis for millions of migrants from villages and small towns of Uttar Pradesh, Madhya Pradesh and Bihar. The husband or beloved leaves home to earn a livelihood and is missed by his family back home.

Prostrations To The Guru

~ Swami Sivananda

Brahmanandam paramasukhadam

kevalam jnanamurtim

Dvandvatitam, gaganasadrisam

tattvamasyadi lakshyam,

Ekam nityam vimalamachalam,

sarvadhi sakshibhutam

Bhavatitam triguna rahitam

Sadgurum tam namami.

I prostrate to the Sadguru who is beyond the modifications of Nature, beyond feelings, the witness of all intellects, the one, eternally pure, like the expansive sky, free from the pairs of opposites, the goal of the Tat Tvam Asi Mahavakya, the form of pure knowledge, the bestower of supreme bliss and Brahmic joy.

सुमिरन करो आदि भवानी का Devi bhajan

सुमिरन करो आदि भवानी का…

पहला सुमिरन गणपति देवा और ऋद्धि सिद्धि महारानी का

दूसरा सुमिरन शंकर जी का, और गौरा महारानी का

तीसरा सुमिरन विष्णु जी का, और लक्ष्मी महारानी का

चौथा सुमिरन ब्रह्मा जी का, और सरस्वति महारानी का

पांचवा सुमिरन रामचन्द्र का, और सीता महारानी का

छठा सुमिरन कृष्ण चन्द्र का, और राधा महारानी का

सातवां सुमिरन सालिग्राम का, और तुलसा महारानी का

आठवा सुमिरन गुरुदेव का, चरनन की बलिहारी का

गुरु मात पिता, गुरु बंधु सखा, तेरे चरणों में स्वामी मेरे कोटि प्रणाम

गुरु मात पिता, गुरु बंधु सखा, तेरे चरणों में स्वामी मेरे कोटि प्रणाम

१. प्रियताम तुम्हीं, प्राणनाथ तुम्हीं, तेरे चरणों में स्वामी मेरे कोटि प्रणाम

२. तुम्हीं भक्ति हो, तुम्हीं शक्ति हो, तुम्हीं मुक्ति हो, मेरे सांब शिवा

३. तुम्हीं प्रेरणा, तुम्हीं  साधना, तुम्हीं आराधना मेरे सांब शिवा

४. तुम्हीं प्रेम हो, तुम्हीं करुणा हो, तुम्हीं मोक्ष हो मेरे सांब शिवा

गुरु मेरी पूजा Guru Govind Singh ji Shabad

जित बिठ्लावे तित ही बैठूं, जो पहरावे सोई सोई पहरूं

मेरी उनकी प्रात पुरानी, बेचे तो बिक जाऊं

गुरु मेरी पूजा, गुरु गोविंद, गुरु मेरो प्राणधन, गुरु भगवंत,

गुरु मेरा पारब्रह्म, गुरु भगवंत

१. गुरु बिन जीवन अलख अंधेरो, सर्व-पूज्य शरण गुरु तेरो

२. गुरु के दर्शन देख देख जीवां, गुरु के चरण धोय धोय पीवां

३. गुरु मेरा ज्ञान, गुरु मेरा ध्यान, गुरु गोपाल, पूरण भगवान

Vrindavan bhajan for Sri Radha Rani

मेरे गिनियो ना अपराध, लाड़ली श्री राधे

मेरे गिनियो ना अपराध किशोरी श्री राधे

१. जो तुम मेरे अवगुन देखो, तो नाही कोई गुण हिसाब, लाड़ली श्री राधे

२. अष्ट सखी और कोटि गोपिन में, उनकी दासी को दासी मैं, लाड़ली श्री राधे

    वहीं लिख लीजो मेरो नाम, लाड़ली श्री राधे

३. माना कि मैं पतित बहुत हूं, हौ पतित पावन तेरो नाम, लाड़ली श्री राधे

    किशोरी मेरी श्री राधे, लाड़ली श्री राधे, स्वामिनी श्री राधे

Feeling grateful for the oral traditions of India :) My heritage.

Tag Cloud