Anandway: Blog

Roadmaps to joy!

Art of Living bhajan, Hame raasto ki zaroorat nahi hai

हमें रास्तों की ज़रूरत नहीं है

हमें तेरे पैरों के निशां मिल गये हैं

अब तेरा मैं हूँ, मुझ में ही तू है

हमें रास्तों की ज़रूरत नहीं है

हमें तेरे पैरों के निशां मिल गये हैं

Krishna bhajan, Bhoolu na yaad tumhaari suno Banvari

Krishna bhajan lyrics, Bhoolu na yaad tumhaari suno Banwari

भूलूं ना याद तुम्हारी सुनो बनवारी, कि जिया घबराय रहा रे

मेरे मन में उठी है उमंग रे, होरी खेलूं श्याम तोरे संग रे

श्याम रंग भरी पिचकारी तान मोहे मारी, भिजोय मोरी सारी

कि जिया हर्षाय रहा रे More...

Krishna bhajan – Nandlal Gopal Daya Kar Ke Vrindavan Mohe Basa Lena

Radha Ramanj ji in Vrindavan

Photo credit: Amala Saci

नन्दलाल गोपाल दया कर के वृन्दावन मोहे बसा लेना; आंखों से पर्दा हटा मोहे, निज रूप का दर्श दिखा देना

१. धन धाम ना मांगू तुझसे कभी, कोई और ना आस मुराद मेरी; मोहे चरणों मे अपने बिठा लो हरि, मोहे नाम का जाप सिखा देना

२. जी चाहता है तेरी सेवा करूं, तेरी सांवरी सूरत देखा करूं; तेरे चरणों को धो धो पिया करूं, मोहे चरणों की दासी बना लेना

३. मायाजाल में मैं तो ऐसी फंसी, तेरा नाम ही लेना भूल गई; मेरी अंत में होगी क्या ही दशा; मोहे बांके बिहारी बचा लेना

४. मिले भक्तों के काम से समय अगर, दासी पे करना दया की नज़र; जब उमड़ेगा भव का सागर, मोहे आ के पार लगा देना

Tag Cloud